Monday, December 31, 2007

ब्लॉग में क्या रखा है ?

साल खत्म होने को है और सब बधाइयाँ भेज रहे हैं । ब्लॉगिंग का यह साल कैसा रहा इस पर निश्चित ही किसी हम जैसे ठाले बैठे ने ज़रूर विचार किया होगा हम सुबह से आज की तिथि में दर्ज हो जाने भर के लिए एक पोस्ट डालने के इंतज़ार में थे।सुअवसर अब जाकर मिला है । सुबह से कडक धूप में खेलते बच्चों और मटर छीलती,स्वेटर बुनती खुश मम्मियाँ देख देख कर यह सोच रहे हैं मरी पोस्ट आज न डली तो क्या गज़ब हो जाएगा ?कई दिन से नही लिखा गया कुछ । मनीषा जी ने कुछ सवाल भेजे थे जिनमें पहला था कि -आपने ब्लॉगिंग कब और कैसे शुरु की ? फिलहाल उन्ही का उत्तर दे रही थी और सोच रही थी कि एक सवाल अपने तरफ से भी लिख दूँ कि- आपने ब्लॉगिंग कब और क्यों छोडी ?कभी-कभी बहुत दिन बीत जाते हैं कुछ लिखते नही बनता और उस र्रिदम के टूटते ही उत्साह क्षीण होने लगता है । लगता है -बेकार का काम है , टाइम खोटी होता है , इतने हम मटर् छील लेंगे ,बथुआ तोड लेंगे ,साग छाँट लेंगे ,राजमा तडक लेंगे ,इसी बहाने धूप सेक लेंगे ।कुछ नही होता । पर एक हुडक बनी ही रहती है कि ब्लॉग झाँक आयें ? कोई टिप्पणी नयी तो नही आयी ? किसी ने कुछ धाँसू लिखा? कोई विवाद तो नही हुआ ? हमारी विशेषज्ञ टिप्पणियों के बिना कोई सफल मुद्दा निबटा तो नही दिया गया ?नीचे ,बाहर ,हर जगह गाना-बजाना हो रहा है और हम परेशान आत्माओं की तरह ब्लॉग लिख रहे हैं ।सुबह से सोच रहे है -क्या बकवास काम है !पर यहाँ आज की तारीख मे दर्ज होना ज़रूरी है कि हमने साल भर लिखा और सक्रिय लेखक हैं ।दिल्ली का आज हाल बुरा है \कल राम सेतु वाली रैली ने अव्यवस्था फैलाई और आज नये साल के शौकीनों ने ट्रैफिक जाम किया हुआ हैऔर हम हारकर पोस्ट डाल रहे हैं । पतिदेव ने जवानी के दिनों की पहली पहली मूँछें उडाकर अभी अभी आयें हैं, नये साल में कुछ नया तो होना चाहिये ।यहाँ क्या नया होने वाला है?आज अज़दक की तरह इसे पतनशील पोस्ट कहने का मन हो रहा है ?

14 comments:

Aflatoon said...

સાલ મુબારક

Divine India said...

आपको नववर्ष की ढ़ेरों बधाइयाँ…।

अविनाश वाचस्पति said...

रखा कुछ नहीं है
सिर्फ छपा ही छपा है।

parul k said...

कुछ भी हो ……मगर हमारी तरफ़ से आपको नव वर्ष मंगलमय हो

इरफ़ान said...

नए साल में आप और भी अधिक ऊर्जा और कल्पनाशीलता के साथ ब्लॉगलेखन में जुटें, शुभकामनाएँ.

www.tooteehueebikhreehuee.blogspot.com
ramrotiaaloo@gmail.com

अजित वडनेरकर said...

नए साल में खूब खूब खुशियां आएं आपके जीवन में यही कामना है। सफर के साथ बनी रहें।

Sanjeet Tripathi said...

साल के अंतिम दिन पोस्ट डलने की हुड़क में हम भी सुबह से ही थे और दोपहर होते होते अपने आप लिखा गया!!
नए साल की शुभकामनाएं आपको

विनीत उत्पल said...

नया वर्ष आपके लिए शुभ और मंगलमय हो।

मीनाक्षी said...

एक साल की सफल ब्लॉगिग पर भी बधाई...कुछ न कुछ नया करते रहना चाहिए.. नव वर्ष की शुभकामनाएँ .

Lavanyam - Antarman said...

नए साल की शुभकामनाएं आपको भी।
-- Lavanya & Family

Rachna Singh said...

नव वर्ष मंगल मय हो
मय से दूर रहे तभी मंगल होगा

Mired Mirage said...

सिगरेट के पैकेट की तरह ब्लॉगिंग में भी चेतावनी आनी चाहिये । एक बार यह चस्का लगा तो छुटाए न छूटे ।
नववर्ष की शुभकामनाओं सहित,
घुघूती बासूती

mamta said...

ब्लॉगिंग के एक साल पूरे करने की बधाई।
नया साल आपके और आपके परिवार के लिए खूब सारी खुशियाँ लाये।

rakeshtripathi said...

notepad ji naya varsh apko matar cheelane aur bathua khotane ke samajshastra se parichit karaye.matar aur bathue ne bahut bari kurbani dee hai insan ke liye.google aur wikipedia wale jis din muhalle ke har ghar ka itihas likhenge net ka vaste ,us din mammaiyon ka bathue aur matar ki hatya ke samay ki panchayat hi input banegi.